अंतरराष्ट्रीयमुख्य समाचार

फ़िलिस्तीनी संगठन ने इस्राईली इंटैलीजेन्स कवच के भीतर लगाई सेंध, इंटैलीजेन्स जैसे जटिल क्षेत्र में इतनी उन्नति कैसे कर गया जेहादे इस्लामी?

फ़िलिस्तीनी संगठन जेहादे इस्लामी ने एक डाक्यूमेंट्री तैयार की जिसे लेबनान के अलमयादीन टीवी ने प्रसारित किया। इस डाक्यूमेंट्री का नाम रखा गया है मकड़ी का जाला। यह इशारा है लेबनान के हिज़्बुल्लाह आंदोलन के प्रमुख सैयद हसन नसरुल्लाह के उस भाषण की ओर जिसमें उन्होंने क़ुरआन की आयत के परिप्रेक्ष्य में कहा था कि इस्राईल मकड़ी के जाले से भी ज़्यादा कमज़ोर है।

डाक्यूमेंट्री में दिखाया गया है कि जेहादे इस्लामी के दो जवान इस्राईली इंटेलीजेन्स एजेंसियों के संपर्क में आते हैं और इस्राईली इंटैलीजेन्स अफ़सर अपने ख़याल में उनकी भर्ती कर लेते हैं। यह सिलसिला एक साल से ज़्यादा समय तक चलता है जिसके दौरान जेहादे इस्लामी संगठन के दोनों जवान और इस संगठन के इंटैलीजेन्स ने अच्छी तरह पता लगा लिया कि इस्राईली ख़ुफ़िया एजेंसियां किस तरह नए जासूसों की भर्ती करती हैं और किस तरह उन तक पैसे और अन्य संवेदनशील उपकरण पहुंचाती हैं और किस तरह उन्हें इस्तेमाल करती हैं।

जेहादे इस्लामी ने यह भी मालूम कर लिया कि इस्राईली ख़ुफ़िया एजेंसी किस तरह फ़िलिस्तीनी कमांडरों की गतिविधियों पर नज़र रखती है और फिर कैसे उन्हें निशाना बनाती है।

इस डाक्यूमेंट्री से जहां यह साबित हुआ कि जेहादे इस्लामी संगठन इंटेलीजेन्स और सुरक्षा के मैदान में काफ़ी ऊंचाई पर पहुंच गया वहीं यह भी साबित हुआ कि इंटेलीजेन्स के मैदान में बड़े बड़े दावे करने वाला इस्राईल किस तरह धोखा खाता है और किस तरह उसके सारे मंसूबों पर पानी फिर जाता है।

यह भी मानना होगा कि जेहादे इस्लामी फ़िलिस्तीन का वह संगठन है जिसने कभी भी इस्राईल से वार्ता और उसके साथ शांति प्रक्रिया में शामिल होने जैसे प्रस्तावों को स्वीकार नहीं किया। इस संगठन ने अब तक इस्राईल से होने वाले हर टकराव में अपनी ताक़त का लोहा मनवाया। हालिया टकराव उस समय हुआ था जब इस्राईल ने जेहादे इस्लामी संगठन के कमांडर बहा अब्दुल अता को शहीद कर दिया था। इस टकराव में जेहादे इस्लामी ने अपनी ताक़त इस तरह दिखाई और अपने सटीक मिसाइलों से इस तरह हमला किया कि इस्राईली प्रधानमंत्री नेतनयाहू तत्काल संघर्ष विराम करने पर मजबूर हो गए।

जेहादे इस्लामी संगठन ईरान के नेतृत्व वाले प्रतिरोधक मोर्चे के समर्थन से ज़मीन पर बहुत से समीकरण बदलने और नए समीकरण स्थापित करने में सफल हुआ है और अब इतनी बड़ी ताक़त बन गया है कि इस्राईली के बीच उसका ख़ौफ़ फैला रहता है। आने वाले दिनों में अभी और भी चौंका देने वाले तथ्य सामने आएंगे क्योंकि इस्राईल के किसी भी हमले का मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी पूरी गति से जारी है।

Comment here